Breaking News

विधुत मण्डल के वाहन से बिक रहा था अनाज, संचालक को नोटिस जारी

reporter 2019-10-11 495
  • share on whatsapp Buffer
  • kissaago
    • सरकारी वाहन का दुरुपयोग जारी है।



    सीहोर। सरकारी विभागों में वाहनों का उपयोग निजी कार्यों में करके सरकारी खजाने को चपत लगाई जा रही है और यह खेल सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों की मिलीभगत से जारी है। जिले में विधुत विभाग से जुड़ा ऐसा ही एक मामला सोशल मीडिया पर खूब तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमे विधुत मंडल का पिकअप वाहन में अनाज भरा है। इस वाहन को लेकर विधुत विभाग की जमकर किरकिरी हो रही है। जहाँ एक और बिजली बिल के नाम पर आमजन से भरी भरकम राशि वसूली जा रही है तो दूसरी और जनता के पैसों का इस प्रकार दुरुपयोग देख जनता की तीखी प्रतिक्रिया सोशल मीडिया पर आ रही है।
    दरअसल सोशल मीडिया पर बीते दिनों एक वायरल वीडियो में एमपीईबी का पिकअप वाहन में अनाज भरा था और कृषि उपज मंडी में खड़ा था। बताया जा रहा है कि वाहन क्रमांक mp37 GA 3251 बिलकिसगंज विधुत सब स्टेशन पर वसूली कार्य में संलग्न है। वाहन एमएस परमार ट्रेवल्स एंड ट्रांसपोर्ट नाम से रजिस्टर है।
    मामले में मप्र विधुत वितरण कंपनी सीहोर के कार्यपालन यंत्री एके गुप्ता का कहना है कि शासकीय वाहन का निजी कार्य में उपयोग नही किया जा सकता बड़ी लापरवाही है सम्बंधित फर्म को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। वाहन हटाने की कार्यवाही की जाएगी।

    पूर्व में जेई पर हुई थी कार्यवाही
    सरकारी वाहन का उपयोग भाजपा के एक कार्यक्रम में करने पर कुछ माह पहले सीहोर टाउन में पदस्थ एक जेई पर निलंबन की कार्यवाही की गई थी। जिसका बाद में तबादला अन्य जिले में कर दिया गया।

    .

    Similar Post You May Like