Breaking News

प्रभारी के सामने बैठक में आखिर क्यों भीड़ गए कांग्रेसी... पढ़े पूरी खबर

reporter 2018-07-21 707
  • share on whatsapp Buffer
  • kissaago

    सीहोर। खेमों में बटी कांग्रेस को एकजुट करने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह प्रदेश में संमवय यात्रा लेकर पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं व रुठे कांग्रेसी को साधने में लगे हैं। कुछ दिनों पूर्व दिग्गी राजा जिले के दौरे थे जहां वह संमवय बैठाने के लिए कांग्रेसियों के घर घर पहुंचे थे और राजा ने कांग्रेसियों की एकता के लिए पंगत भोज भी आयोजित किया था। लेकिन दिग्गी राजा की नसीहतों का असर जिले में दिखाई नहीं दे रहा है और शनिवार को बैठक में इछावर क्षेत्र के दो गुट आपस में भीडते नजर आए।
    शनिवार को बैठक के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में भीड़ गए और देखते ही देखते पार्टी कार्यालय में हंगामा इतना बढ़ गया है कि आरोप प्रत्यारोप से शुरु हुआ यह झगड़ा अशब्दों और झूमा झटकी तक जा पहुंचा। कांग्रेस कार्यालय में हुए इस जोरदार हंगामे का एक वीडियों भी तेजी से वायरल हो रहा है तो वहीं पार्टी के पदाधिकारी इस संबंध में कुछ भी बोलने बचते नजर आ रहे हैं। दरअसल पूर्व विधायक और सीहोर जिला कांग्रेस प्रभारी प्रियव्रत खिची शनिवार को बस स्टैण्ड स्थित कांग्रेस कार्यालय में जिले के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं की बैठक ले रहे थे। सूत्रों की मानें तो इसी बैठक के दौरान इछावर के विधानसभा क्षेत्र के दो कांग्रेस नेताओं के समर्थक आपस में भीड़ गए। इछावर विधानसभा के एक ग्रामीण नेता उस वक्त गुस्से से तमतमा गए जब उनको बैठक में बोलने से रोका गया। जिन्होंने इछावर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस नेता पर गंभीर आरोप मढते हुए कहा कि चुनाव के वक्त वह पार्टी का काम नहीं करते अन्य दलों के उम्मीदवार की मद्द करते हैं। ग्रामीण नेता का कहना था कि बैठक में उन्हें बोलने नहीं दिया जाता जबकि वह पार्टी के वफादार सिपाही हैं। बैठक में चारों विधानसभा क्षेत्र के पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद थे। जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष ठाकुर रतन सिंह, इछावर विधायक शैलेन्द्र पटेल,पूर्व सांसद सुरेन्द्र सिंह, धर्मेन्द्र ठाकुर, ओमदीप राठौर, राकेश राय, तुलसीराम पटेल, राजीव गुजराती, जफरलाला, हरपाल ठाकुर, मनोज परमार, भूरा यादव, दामोदर राय, किसान कांग्रेस अध्यक्ष हर गोविंद दरबार, विवेक राठौर सहित सैकडों कांग्रेसी मौजूद थे। .

    Similar Post You May Like