Breaking News

34 मजदूरों को लेकर 2 बसें झाबुआ रवाना, 125 मजदूरों को राजस्थान से लाएंगी 4 बसें

reporter 2020-04-27 280
  • share on whatsapp Buffer
  • kissaago
    • बस को झंडी दिखाते विधायक सुदेश राय, कलेक्टर अजय गुप्ता।

    सीहोर। लॉक डाउन में अन्य जिलों और दूसरे राज्यों के फंसे हुए मजदूरो को घर वापस भेजने के लिए बस सेवा शुरू हो गई है। दूसरे राज्यों की सरकारों से समंवय बनाकर मजदूरों को बसों में भेजा जा रहा है तो वहीं अन्य राज्यों में फंसे सीहोर जिले के मजदूरों को यहां लाने की तैयारियों में जिला प्रशासन जुटा हुआ है। सोमवार को प्रवासी मजदूरों को लेकर दो बसें रवाना की गई। जिनमें 34 मजदूर मौजूद थे। एक बस नसरूल्लागंज से भेजी गई जिसमें झाबुआ जिले के 18 मजदूर थे। तो वहीं दूसरी बस को सीहोर विधायक सुदेश राय,

    कलेक्टर अजय कुमार गुप्ता ने
    हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस बस में गुजरात के 7 और महू जिले के 9 मजदूर भेजे गए। बसें पिटोल झाबुआ तक जाएंगी जहां से गुजरात में फंसे सीहोर जिले के मजदूरों को वापस लेकर लौटेंगी।
    इस मौके पर जिला पंचायत सीईओ अरूण कुमार विश्वकर्मा और आरटीओ अनुराग शुक्ला भी मौजूद थे। जानकारी देते हुए श्री शुक्ला ने बताया कि सभी 34 मजदूर और बस ड्राईवरों का मेडिकल परीक्षण किया गया है। बसें राज्यों की बार्डर टू बार्डर चल रही हैं इसलिए
    इन्हें झाबुआ बार्डर पर छोडा जाएगा जहां से गुजरात ट्रांसपोर्ट की बसें मजदूरों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाने का काम करेंगी। पिटोल बार्डर से गुजरात में फंसे मजदूरों को यहीं बसें लेकर आएंगी।

    70 मजदूरों को लेकर राजस्थान के लिए रवाना होंगी चार बसें
    जिला परिवहन अधिकारी अनुराग शुक्ला ने बताया कि राजस्थान ट्रांसपोर्ट से बात चल रही है। संभवत सोमवार शाम को ही चार बसों में 70 मजदूरों को गुना राजस्थान बार्डर के लिए रवाना किया जाएगा, यह बसें राजस्थान में फंसे जिले के करीब 125 मजदूरों को लेकर लौटेंगी। बताया कि अन्य राज्यों के परिवहन विभागों से बात चल रही है। इसके बाद उत्तरप्रदेश के प्रवासी मजदूरों को लेकर बसें जाएंगी। .

    Similar Post You May Like