Breaking News

पेट्रोल- डीजल, रसोई गैस दाम बढ़ने पर कांग्रेसियों ने दिया धरना, रखा उपवास

reporter 2020-12-19 189
  • share on whatsapp Buffer
  • kissaago
    • धरना देते कांग्रेस नेता।

    सीहोर। पेट्रोल, डीजल एवं रसोई गैस की कीमतों में हुई मूल्य वृद्धि के विरोध में एवं किसान आन्दोलन के समर्थन में जिला कांग्रेस कमेटी सीहोर द्वारा स्थानीय तहसील चौराहा स्थित गांधी पार्क में एक दिवसीय धरना एवं उपवास का आयोजन किया गया।
    धरने को संबोधित करते हुए जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ.बलवीर तोमर ने कहा कि आज जब अन्र्तराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बहुत ही कम है, तब भी पेट्रोल डीजल के भाव आसमान छू रहे हैं। जबकि कांग्रेस के शासनकाल में कच्चे तेल के दाम बहुत ज्यादा होने के बावजूद भी केन्द्र सरकार सबसिडी के माध्यम से जनता और किसानों को सस्ता पेट्रोल और डीजल उपलब्ध कराती थी। उस समय यदि पेट्रोल डीजल और रसोई गैस के दाम जरासे भी बड़ जाते थे तो भाजपा के नेताओं के पेट में दर्द होने लगता था तथा वे दिखावे के लिये सायकल और बेलगाड़ी यात्रा करने लगते थे। अब जब कच्चे तेल के भाव कम होने के बावजूद भी जब पेट्रोल डीजल और रसोई गैस के दाम आसमान छू रहे हैं तो ऐसे समय में भाजपा के यह नेता कहां छुपे हुए है। डॉ. तोमर ने आगे कहा कि पेट्रोल डीजल और रसोई गैस की कीमते बडऩे से ना केवल आम जनता बल्कि किसान मजदूर सहित हर वर्ग इसका शिकार होता है। क्योंकि किसान को भी खेती में लगभग हर कार्य में डीजल की आवश्यकता होती है और डीजल के दाम बडऩे से किसान की खेती की लागत आज के समय में बहुत बड़ गई है, जबकि उनकी फसलों तथा सब्जियों के भाव लगातार गिर रहे हैं और अब तो केन्द्र सरकार ने फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारण्टी खत्म करके तथा मण्डियों के निजीकरण कर प्रस्ताव लाकर पुरी तरह से किसानों तथा खेत मजदूरों की कमर तोडऩे की तैयारी कर ली है।

    इस सरकार को आम जनता किसान मजदूर से कोई लेना-देना नही है, बल्कि यह सरकार अपने चंद उद्योगपति मित्रों की झोली भरना चाहती है। इस सरकार का उद्देश्य छोटे-छोटे व्यापारियों को खत्म कर देश की समस्त पूंजी एवं अर्थव्यवस्था चन्द उद्योगपतियों के हाथ में सौंपना है। जीएसटी एवं नोट बंदी इस बात के प्रमाण हैं कि सरकार छोटे-छोटे व्यापारों को खत्म कर केवल कुछ उद्योगपतियों के हाथों में सब कुछ सौंप देती है तथा अब नये कृषि कानूनों और मण्डी एक्ट में संशोधन के माध्यम से इस सरकार ने किसानों को उद्योगपतियों को गुलाम बनाने की पुरी तैयारी कर ली है। जिला कांगे्रस अध्यक्ष डॉ. बलवीर तोमर ने आगे कहा कि कांग्रेस केन्द्र की इस निकम्मी जन विरोधी सरकार की गलत नितियों खिलाफ जनता के हित के लिये लड़ाई हमेशा लड़ती रहेगी तथा इस सरकार को हमेशा आईना दिखाती रहेगी। डॉ. तोमर ने ईश्वर से इस सरकार को सद्बुद्धी देने तथा जनहित के निर्णय लेने के लिये प्रेरित करने की प्रार्थना भी की। अंत में जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. बलवीर तोमर ने सभी कांग्रेसजनों से आज 20 दिसम्बर, रविवार को शाम 6 बजे जिला कांग्रेस कार्यालय सीहोर में उपस्थित होने की अपील की है तथा बताया कि रविवार को सभी कांग्रेसजन कांग्रेस कार्यालय से शाम 6 बजे स्थानीय कोतवाली चौरहा पहुंचेगें तथा वहाँ बड़ती महंगाई के विरोध एवं किसानों के समर्थन में मोमबत्तियाँ जलाकर केन्द्र व प्रदेश सरकार विरोध किया जोयगा।
    उन्होने सभी कांग्रेसजनों से भारी से भारी संख्या में उपस्थित होने की अपील की है। कार्यक्रम का संचालन सुनील दुबे ने किया तथा सभी उपस्थित कांग्रेसजनों का आभार व्यक्त पंकज शर्मा ने किया। इस अवसर पर प्रमुख रुप से राजेन्द्र ठाकुर, नईम नवाब, मिर्जा बशीर बैग, राममूर्ति शर्मा, तमकीन बहादुर, जफरलाला, कपिल उपाध्याय, हफीज चौधरी, राजेन्द्र वर्मा, हफीज चौधरी, निशांत  वर्मा, राजेश भूरा यादव, राजीव गुजराती, गुलाब बाई ठाकुर, शबाना मेहमूद अंसारी, डॉ. अनीस खान, सीताराम भारती, पंकज शर्मा, शानू लाला, मुमताज खान, रमेश राठौर, लक्ष्मण रैकवार, अजय रैकवार, मुकेश ठाकुर, मृदुल तोमर, विवेक राठौर, साजिद शाह, ब्रजेश पटेल, मेहफूज बंटी, तुलसी राठौर, जसवीर सिंह खनुजा, नरेन्द्र परमार, बलवान ठाकुर, अनीस भाई, रामभजन राय, मुनव्वर मामू, मो. जावेद, भगत तोमर, गुलजारी वाजपय, राजेन्द्र  नागर, नवेद खान, देवेन्द्र ठाकुर, सूर्यांश जादौन, सर्वेश व्यास, सलीम कुद्दुसी, मनोज परमार, लखन मालवीय, रिजवान अंसारी, दीपक सोनकर, आसिफ भान्जा, बॉबी राजोरिया, पियुष मालवीय, मीरा रैकवार, ओम सोनी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित है।.

    Similar Post You May Like