Breaking News

अवैध उत्खनन| डिजियाना कंपनी पर कलेक्टर गुप्ता ने लगाया 6 करोड़ 96 लाख का जुर्माना

reporter 2019-09-24 165
  • share on whatsapp Buffer
  • kissaago
    • अजय गुप्ता, कलेक्टर सीहोर।

    सीहोर। अवैध उत्खनन का मामला जिले में गर्माया हुआ है। प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद ही हालत जस के तस है। अवैध उत्खनन की बात पर कांग्रेस जिला कार्यवाहक अध्यक्ष और प्रभारी मंत्री आरीफ अकील आमने सामने हैं। ऐसे में कलेक्टर अजय गुप्ता द्वारा जिले में रेत के अवैध उत्खनन पर रोक लगाने के लिए सख्त कार्यवाही की गई है। डिजियाना इंडस्ट्रीज प्रा.लि.कपंनी पर कलेक्टर ने 5800 घन मीटर रेत के अवैध उत्खनन पर 6 करोड़ 96 लाख रुपये का अर्थदण्ड लगाया है। नसरुल्लागंज तहसील के ग्राम आंबाजदीद में मप्र राज्य निगम के उप पट्टेदार कंपनी डिजियाना इंडस्ट्रीज प्रा.लि.कपंनी के विरुद्ध मप्र रेत नियम 2018 के नियम 23(1) के तहत अवैध उत्खनित रेत मात्रा 5800 घ.मी. की रायल्टी का 60 गुना अर्थदण्ड राशि 3,4800,000 रुपये एवं समतुल्य पर्यावरण क्षतिपूर्ति राशि 3,48,00,00 रुपये कुल 6,96,00,000 रुपये लगाया गया है।
    खनिज अधिकारी द्वारा कलेक्टर कार्यालय को प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया था कि 3 अप्रैल 2019 को ग्राम आंबाजदीद में मप्र राज्य खनिज निगम की ठेकेदार कंपनी डिजियाना इन्डस्ट्रीज प्रा.लि. को 223 रकबा 4.00 हैक्टेयर में रेत खदान की स्वीकृति है। खदान का सीमांकन एवं निरीक्षण प्रभारी अधिकारी खनिज शाखा सीहोर खनिज निरीक्षक खुशबू वर्मा, राजस्व निरीक्षक नसरुल्लागंज एस.एस.कसोरिया, हल्का पटवारी आंबाजदीद दिनेश उछवारे एवं अन्य राजस्व अमले के साथ किया गया था। मौके पर राजस्व रिकार्ड एवं नस्ती में उपलब्ध नक्शे के आधार पर स्वीकृत रेत खदान की सीमाएं निर्धारित की गई जिसमें जांच उपरांत पाया गया कि पूर्व से संचालित रेत खदान में सीमा दर्शाने वाले एक भी सीमा चिन्ह नहीं हैं। खदान से संबंधी बोर्ड भी खदान से दूर सही स्थान पर स्थापित होना नहीं पाया गया था। खदान में पर्याप्त मात्रा में खनन योग्य रेत भी उपलब्ध नहीं होना पाया गया। रेत खदान की दक्षिणी सीमा में सवीकृति क्षेत्र से बाहर लगातार कई स्थानों पर रेत उत्खनन के गड्ढे पाये गए जिनकी माप की तो 5800 घ.मी. रेत का उत्खनन स्वीकृत क्षेत्र के बाहर किया जाना पाया गया था।
    .

    Similar Post You May Like