Breaking News

भीमाकोरेगांव शौर्य दिवस पर डा अंबेडकर समीति ने किया नागरिकों का सम्मान

reporter 2021-01-02 380
  • share on whatsapp Buffer
  • kissaago
    • सम्मानित करते अतिथि जन।

    भीमाकोरेगांव शौर्य दिवस पर डा अंबेडकर समीति ने किया नागरिकों का सम्मान
    सीहोर। शुक्रवार को नगर के अंबेडकर धर्मशाला में डा भीमराव अंबेडकर उत्सव समीति द्वारा भीमाकोरेगांव शोर्य दिवस कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें विभिन्न सामाजिक क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले नागरिकों को सम्मानित किया गया है। कार्यक्रम की शुरुआत बुद्ध बंदना की साथ हुई इसके बाद भीमा कोरेगांव में शहीदों के साथ ही बहुजन नायकों को नमन कर याद किया गया।
    सम्मान समारोह में स्वास्थ्य, शिक्षा विभाग, समाजसेवी, पर्यावरण और

    महिलाओं एवं सामाजिक क्षेत्र में श्रेष्ठ कार्य करने वाले गणमान्य नागरिकों को सम्मानित किया गया।
    जिला चिकित्सालय सीहोर में पदस्थ्य मेडिकल आफिसर डा नवीन मेहर, डा मालवीय, अंबर मालवीय को स्मृति चिहन भेंट कर सम्मानित किया गया।
    कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राजेन्द्र पटेल, संघप्रिय कमलेश बौद्ध, राजू भारती एवं तोरण सिंह अहिरवार ने भीमागौरेगांव शौर्य दिवस के उपलक्ष्य में बताया कि दिनांक 1 जनवरी 1818 को पेंशवाओं एवं महारों में भीमा नदी के किनारे एक युद्ध हुआ जिसमें पेंशवाओं की सेना में 28 हजार सैनिक थे एवं महारों की सेना में के वल 500 सैनिक थे। किन्तु फिर भी उन 500 महान सूरवीरों ने अपने शौर्य व पराक्रम की बदौलत अपने सामने घुटने टेकने को मजबूर कर दिया। उन 500 क्रांतिवीरों की याद में भीमा नदी के किनारे एक विजय स्तम्भ बनाया गया। जहाँ पर प्रत्येक वर्ष 1 जनवरी को बाबा साहेब अम्बेडकर जाकर 500 सूरवीरों को प्रणाम करते थे।
    कार्यक्रम के विशेष अतिथि राजू भारती ने बहुजन गीत सुनाए। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जेएस कचनेरिया ने सभी का आभार व्यक्त किया। गजराज जाटव, जय प्रकाश फरेला सुशील कचनेरिया, निर्मल कचनेरिया, सन्नी जाटव, हरिओम बौद्ध, धनराज सिंह थरेले, पूनम चन्द्र मोर्य, नीरज जाटव, पवन सूर्यवंशी, इंजि.कमलेश जांगड़े, राकेश बौद्ध, कमलेश जांगड़े (केटर्स), बलवीर सिंह, प्रवेश परिहार, हेमंत दोहरे, रोहित बौद्ध, गेंदालाल सूर्यवंशी, इमरतलाल बामनिया, सोनू जाटव एवं गब्बर जाटव का विशेष योगदान रहा।
    .

    Similar Post You May Like